November 29, 2022
End to end encrypted meaning in hindi

End-to-end encrypted का मतलब क्या है ? – End to end encrypted meaning in hindi

End to end encrypted meaning in hindi :- आज के इस लेख के मदद से हम जानेंगे कि आखिर End-to-end encrypted का मतलब क्या है।

दोस्तों, जब आप social media platform का उपयोग करते होंगे तब आपके पास एक encryption का मैसेज अवश्य आता होगा और आप उस encryption के मैसेज को इग्नोर कर देते होंगे। मगर क्या आपको मालूम है कि आखिर वह इंक्रिप्शन मैसेज क्यों आता है।

और encryption का मतलब क्या होता है अगर आप का जवाब ना है और आप इससे जुड़ी अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारे इस लेख के साथ अंत तक बने रहे तो चलिए शुरू करते हैं।


End-to-end encrypted का मतलब क्या है ? ( End to end encrypted meaning in hindi )

End-to-end encrypted हमारी Privacy से संबंधित होता है। जो हमारे व्यक्तिगत जानकारियों को सुरक्षित रखता है। End-to-end encryption सुरक्षित Communication का एक तरीका है, जो किसी भी तीसरे व्यक्ति तक हमारे डाटा को पहुंचने से रोकता है।

End-to-end encrypted की मदद से सभी डाटा को एक ऐसे Format में या encryption की में बदल दिया जाता है, जिससे कोई भी तीसरा व्यक्ति उस मैसेज को नहीं समझ सकता है।

End-to-end encryption की मदद से हम इंटरनेट के माध्यम से किसी भी तरह के file, message या call हो सुरक्षित तरीके से कर पाने में सक्षम होते हैं।

कई लोकप्रिय Messaging apps जैसे – फेसबुक, WhatsApp, इत्यादि End-to-end encryption का उपयोग करते हैं और अपने ग्राहकों के डेटा की सुरक्षा करते हैं।


Encrypt का मतलब क्या होता है ?

Encrypt, End-to-end encrypted का ही एक दूसरा रुप है। जब किसी Data या information को सुरक्षित रखने के लिए उसे एक Secret Format में बदल दिया जाता है, जिसे कोई ना समझ पाए, यह कार्य Encrypt कहलाता है।

किसी भी Data या Information को Secret Format या Secret कोड में बदलने की प्रक्रिया Encryption कहलाती है। इस प्रक्रिया में हम दूसरे व्यक्ति को जो मैसेज भेजते हैं, उसे एक code में convert कर दिया जाता है जिसे Cipher text कहते हैं।

जब हम किसी व्यक्ति को कोई संदेश भेजते है, तो वह संदेश सबसे पहले encrypt होता है और एक server के माध्यम मैसेज प्राप्त करने वाले के पास Decrypt होकर पहुंचता है।

जब किसी Encrypted Information को पढ़ने के लिए उसे ओरिजिनल Format में बदल दिया जाता है तो इस प्रक्रिया को Decryption कहते हैं और बदला गया Format Decrypt कहलाता है।


WhatsApp End to end Encryption कैसे काम करता है ?

WhatsApp एक ऐसा मैसेजिंग ऐप है जो हमें सबसे अच्छा End-to-end encryption Feature प्रदान करता है। WhatsApp में यह फीचर पहले से ही Build कर दिया गया है। इसे किसी भी व्यक्ति को On करने की जरूरत नहीं है।

इसलिए यदि कोई व्यक्ति यह जानना चाहता है कि WhatsApp End-to-end encryption का उपयोग कैसे करे? तो हम आपको बता दें कि WhatsApp में यह फीचर पहले से ही उपलब्ध है, इसे उपयोग करने की कोई जरूरत नहीं है बल्कि यह automatically ही काम करता है।

WhatsApp के माध्यम से यदि आप किसी भी चैट में कोई मैसेज भेजते हैं या वीडियो कॉल करते हैं या किसी तरह का फाइल या फोटो भेजते हैं तो वह केवल उसी व्यक्ति तक पहुंचता है, जिसे आप भेजना चाहते हैं। जब तक आप किसी तीसरे व्यक्ति को वह मैसेज नहीं दिखाते, तब तक वह मैसेज कोई भी व्यक्ति नहीं पढ़ सकता।


Encryption प्रदान करने वाली कुछ Messaging Apps

Sr. No. Apps Name
1. WhatsApp
2. Telegram
3. Apple iMessage, Almost Apple provide encryption all device’s
4. Silence
5. Threema
6. Signal
7. Facebook Messenger

End to end encryption हमें किन चीजों से बचाता है ?

End-to-end encryption के कई फायदे हैं और यह हमें कई तरह की चीजों से बचाता है। तो चलिए इसके कुछ फायदों पर नजर डालते हैं।

  1. End-to-end encryption हमारे डाटा को सुरक्षित रखता है और हमारे Device को Hack होने से बचाता है।
  2. यह हमारे व्यक्तिगत जानकारी को किसी भी तीसरे व्यक्ति के पास पहुंचने से बचाता है। यदि आप किसी अन्य मैसेजिंग ऐप का इस्तेमाल करते हैं जिसमें End-to-end encryption नहीं है तो वह ऐप आपके डाटा को रख लेता है और किसी तीसरे व्यक्ति को बेच देता है। परंतु End-to-end encryption के माध्यम से आप इस चीज पर नियंत्रण रख सकते हैं।
  3. कई बार ऐसा होता है कि अगर कोई तीसरा व्यक्ति हमारे व्यक्तिगत जानकारी को देख लेता है तो वह हमें डराने धमकाने की कोशिश करता है, परंतु End-to-end encryption के साथ हम किसी भी व्यक्ति के साथ बिना डरे बात कर सकते हैं और अपनी व्यक्तिगत जानकारी भी साझा कर सकते हैं।
  4. End-to-end encryption हमारे गोपनीयता की रक्षा करता है। और इसके माध्यम से हम अपनी निजी तस्वीरें, वीडियो या मैसेज भी किसी को भेज सकते हैं।

End-to-end encryption के नुकसान

End-to-end encryption के नुकसान इसके फायदों की अपेक्षा बहुत ही कम है।

  1. End-to-end encryption के के कारण सरकार और पुलिस किसी भी तरह की गलत तरह के Chats को ट्रेस नहीं कर पाती है।
  2. End-to-end encryption के कारण जो आपत्तिजनक मैसेज या बुराइयों से संबंधित मैसेज भेजे जाते हैं, उनके ऊपर सरकार का नियंत्रण नहीं होता।

FAQ,S:

Q1. End-to-end encrypted meaning in WhatsApp

Ans. End-to-end encryption का मतलब WhatsApp पर होता है, कि केवल आप और जिस व्यक्ति के 
साथ आप communication कर रहे हैं, वह पढ़ या सुन सकता है, और बीच में कोई भी नहीं, व्हाट्सएप भी नहीं।

Q2. WhatsApp end to end encryption meaning in Tamil

Ans. என்ட்-டு-எண்ட் என்க்ரிப்ஷன் என்றால் வாட்ஸ்அப்பில் நீங்களும் நீங்கள் 
தொடர்புகொள்ளும் நபரும் மட்டுமே படிக்க முடியும் அல்லது கேட்க முடியும், 
இடையில் யாரும் இல்லை, வாட்ஸ்அப் கூட இல்லை.

Q3. No one outside of this chat meaning in hindi

Ans. No one outside of this chat का मतलब होता है कि आप जो बात कर रहे है,
वो सिर्फ आपके बीच रहेगा और कोई तीसरा ब्यक्ति आपके बातों को नही देख सकता है।

Q4. Encryption हमारे लिए क्यों जरूरी है ?

Ans. Encryption हमारे लिए इसलिए जरूरी है क्योंकि वह हमारे सुरक्षा और प्राइवेसी को ध्यान रखता है।

[ Conclusion, निष्कर्ष ]

दोस्तों उम्मीद करता हूं कि आपको मेरा यह लेख बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख के मदद से End to end encrypted meaning in hindi के बारे में जान चुके होंगे और यह भी जान चुके होंगे की ” Encryption ” क्या होता है।

अगर आपके मन में इस लेख से जुड़ी कोई भी सवाल है या आपको कुछ समझ नही आया है, तो आप हमारे दिए गए comment box में मैसेज करके पूछ सकते हैं हमारी समूह आपके पूछे गए सवालों का जवाब अवश्य देगी। धन्यवाद !


Read Also :-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *